बाजार की तेजी पर लगा ब्रेक, सेंसेक्स 106 अंक फिसला

बाजार की तेजी पर लगा ब्रेक

नई दिल्ली: पिछले छह दिन से शेयर बाजार में जारी तेजी पर मंगलवार को ब्रेक लग गया. विदेश बाजारों से मिले कमजोर संकेतों से निवेशक बाजार में सतर्कता बरत रहे हैं. बैंक शेयरों में कमजोरी के चलते आईटी शेयरों में तेजी का फायदा नहीं मिल पाया. बाजार की नजरें भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) की मौद्रिक समीक्षा पर लगी हैं. इसका एलान बुधवार दोपहर बाद होगा. हालांकि, विश्लेषकों का कहना है कि केंद्रीय बैंक के ब्याज दर में वृद्धि करने की उम्मीद नहीं है.

बीएसई सेंसेक्स कारोबार के अंत में 106 अंक गिरकर 36,134 अंक पर रहा. एनएसई का निफ्टी50 भी 14 अंक की नरमी के साथ 10,869 अंक पर बंद हुआ. बीएसई मिडकैप में 0.07 फीसदी और स्मॉलकैप में 0.14 फीसदी की कमजोरी आई. 

बीएसई के सेक्टर इंडेक्स में आईटी और टेक्नोलॉजी इंडेक्स में 1 फीसदी से ज्यादा तेजी रही. इसके बाद ऑयल एंड गैस, मेटल और एनर्जी इंडेक्स में मजबूती दिखी. एफएमसीजी, कंज्यूमर ड्यूरेबल्स, टेलीकॉम और वित्तीय कंपनियों के इंडेक्स में कमजोरी दिखी.

चढ़ने वाले दिग्गज शेयरों में ओएनजीसी, इंफोसिस, विप्रो, बीपीसीएल और इंडियाबुल्स हाउसिंग फाइनेंस शामिल रहे. गिरने वाले शेयरों में सन फार्मा, एमएंडएम, एचडीएफसी, एसबीआई और एनटीपीसी प्रमुख रहे. 
सन फार्मा के शेयर मंगलवार को भी गिरकर बंद हुए. कंपनी के शेयर एनएसई में 2.72 फीसदी गिरकर 443 रुपये पर बंद हुए. सोमवार को इस शेयर में 7 फीसदी से ज्यादा गिरावट आई थी. कंपनी में कॉर्पोरेट गवर्नेंस के मसले पर कई सवाल उठाए गए हैं. एक व्हिसल ब्लोअर (पोल खोलने वाले) ने सेबी को कंपनी के खिलाफ शिकायत की है. कंपनी के प्रमुख दिलीप सांघवी ने कंपनी पर लगे आरोपों को निराधार बताया है.